यूपीए की सरकार में राफेल का दाम ५२० करोड़, अभी १६०० करोड़ कैसे हुआ? – राहुल गाँधी

rahul-gandhi-claims-defence-minister-nirmala-sitaraman-rafeal-deal-scam-france

जी नहीं ये हमने नहीं कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गाँधी ने पूछा खुद नरेंद्र मोदी और देश की रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण से | राहुल गाँधी का कहना था कि जब तक राफेल डील नहीं हुई थी, निर्मला सीतारमण ने लोगों को बोला कि ‘हम राफेल की कीमत भारत की जनता को बताएंगे’|

उन्होंने निर्मला सीतारमण पर हमला करते हुए ये भी कहा कि, ‘राफेल डील होने के बाद निर्मला सीतारमण ने देश को असली दाम बताने कि बात पर ये कह कर बात टाल दी कि यह ‘फ़्रांस और भारत के बीच एक समझौते कि वजह से है, और हम आपको असली दाम नहीं बता सकते हैं’ |

उन्होंने ये भी बोला कि वे खुद फ़्रांस जाके फ़्रांस के राष्ट्रपति से मिले और पूछा, ‘क्या ऐसा कोई समझौता दोनों देश के बीच हुआ है जिसमें ये बंदिश है कि राफेल हवाई जहाज का दाम देश कि जनता को नहीं बताया जाएगा ? इस पर फ़्रांस के राष्ट्रपति ने बोला नहीं ऐसा कोई समझौता नहीं हुआ है|”

आगे राहुल गाँधी ने कहा, ‘किन्तु राफेल डील के बाद बीजेपी कि तरफ से ये प्रचारित किया गया कि राफेल डील फ़्रांस के साथ हुआ और जिसमें ये कहा गया कि प्रत्येक हवाई जहाज कि कीमत १६०० करोड़ रूपये है |’

राहुल गांधी ने तंज कसते हुए कहा कि ‘पता नहीं किसके साथ गए थे फ्रांस हमारे प्रधान मंत्री जी कि जादू से जिस जहाज कि कीमत हमारे समय में ५२० करोड़ रूपये थी वो अभी १६०० करोड़ हो गयी |’

२० जुलाई २०१८, एक ऐतिहासिक दिन जब मोदी सरकार के ही समर्थंक पार्टी तेलगु देशम पार्टी की तरफ से एक अविश्वास प्रस्ताव पारित हुआ| राहुल गाँधी ने लोकसभा में अपना भाषण देते हुए ये बात रखी|

Preeti Mishra
Preeti Mishra

Content Writer | Foodie | Motivator | Political Analyst