अरे सुधांशु त्रिवेदी जी, प्रश्न समझिये BJP शासित राज्यों में सोशल ऑडिट क्यों नहीं – आमिर खान

RTI में एक सवाल के जवाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बयान आता है कि, यदि केंद्र सरकार ट्रांसपेरेंसी पर आ जायेगी तो उसकी प्राइवेसी ख़त्म हो जायेगी | जब भाजपा से जनलोकपाल बिल पास करने कि बात कही जाती है तो वो बोलते हैं कि, विपक्ष में कोई नहीं है इसलिए जनलोकपाल विधेयक नहीं पास हो सकता है , हालांकि इस पर इनको कोर्ट से अच्छी खासी फटकार भी पड़ी है | अब बात करते हैं सोशल ऑडिट जो आम तौर पर दिल्ली, आंध्र प्रदेश और वेस्ट बंगाल सरकार करती रहती है हर एक मुद्दे पर आम जनता के बीच जाके राय लेना या किसी काम या बजट को पास करने के बाद लोगों का सर्वे और काम का ऑडिट करना | हाल ही में आंध्र प्रदेश में ये काम बड़ी ही तेजी के साथ हो रहा है | ABP न्यूज़ के एक शो असर में आमिर खान ने जब ये सवाल बीजेपी के प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी से किया तो सुधांशु जी ने इस बार फिर से आना कानी करने लगे| उन्होंने बोला, ‘हर राज्य सरकार अपने तरीके से काम करती है केंद्र सरकार का कोई निर्देश नहीं होता है इस बाबत कि सोशल ऑडिट राज्य सरकार किस तरीके से क़र रही हैं’ | हालाँकि सुधांशु त्रिवेदी के इस बयान पर आमिर खान ने उनको एक बार फिर से प्रश्न को समझाया कि ‘दरअसल यही तो पूछना चाहता हूँ कि, बीजेपी की सरकार जिन राज्यों में है वहां सोशल ऑडिट क्यों नहीं होते? कौन सा पैसा कहाँ कितना खर्च हुआ है जमीनी स्तर पर कोई काम हुआ है भी कि नहीं’ 

देखिये पूरा वीडियो 

https://www.youtube.com/watch?v=-QQEPyq6xMk