प्रधान मंत्री गरीब कल्याण योजना २०१६: खोदा पहाड़ और निकली चुहिया

इस योजना के तहत कुल कितनी रकम जमा कराई गयी, लोगों के होश उड़ गए. बताया जा रहा है की इस योजना में काले धन और उसके सरचार्ज के रूप में
pradhanmantri-garib-kalyan-yojna-black-money-less-tax
नोटबंदी के बाद से ही इस बड़ी योजना के चर्चे चारो तरफ थे और शायद आज भी होंगे. पर पहले जब इसकी चर्चा होती थी तो इसकी वजह कुछ और थी. इस योजना के तहत जिन लोगों के पास भी काल धन होगा, वो ३०% टैक्स के अलावा ३३% का एक्स्ट्रा PMGK cess या सरचार्ज चुकाना होगा. अगर पेनल्टी को भी जोड़ लें तो काले धन को डिस्क्लोज़ करने वालों को १०% की पेनाल्टी और उसके अलावा टैक्स और PMGK सरचार्ज देना होगा. आपको बता दें की सरकार को और देश की तमाम जनता को इस बात का पूरा भरोसा था की ३१ मार्च २०१७ के बाद (जो की इस योजना ते तहत राशि जमा कराने की आखिरी तारीख थी), इस योजना के तहत बहुत सारा धन इकठ्ठा होगा जिसका इस्तेमाल गरीब जनता की जीवन सही को बेहतर बनाने के लिए किया जाएगा. पर आज जब इस बात का खुलासा हुआ की इस योजना के तहत कुल कितनी रकम जमा कराई गयी, लोगों के होश उड़ गए. बताया जा रहा है की इस योजना में काले धन और उसके सरचार्ज के रूप में मात्र १४००० करोड़ की राशि जमा कराई गयी. यह रकम उम्मीद की गयी राशि से कही कम है. ऐसा में ये कहना गलत न होगा की खोदा पहाड़ और निकली चुहिया.