एक स्त्री के दिल की आवाज़ – पैसों के बाजार में, रिश्तों का भी मोल लगा दिया

हर मोड़ पे देंगे साथ, आज बीच राह में ही अपना हाथ छुड़ा दिया, पैसों के बाजार में रिश्तों का भी मोल लगा दिया जो किये थे अनगिनत वादें कभी,
hindi-shayari-paison-ke-bazaar-mein-rishton-ko-bhi-tod-diya
पैसों के बाजार में रिश्तों का भी मोल लगा दिया पहले कहते थे कभी अपना हमें आज परायों की पंक्ति में गिना दिया कहते थे कभी हर मोड़ पे देंगे साथ, आज बीच राह में ही अपना हाथ छुड़ा दिया, पैसों के बाजार में रिश्तों का भी मोल लगा दिया जो कहते थे हर दुःख में निभाएंगे साथ, आज उन्होंने ही खून के आंसू रुला दिया, जो किये थे अनगिनत वादें कभी, आज एक पल में ही भुला दिया, पैसों के बाजार में रिश्तों का भी मोल लगा दिया अब तो बस टटोलती हूँ अपने यादों के पन्नो को, मगर समझ न आया की गलती कहाँ हुई, शायद आज के बदलते दौर में रिश्तों की भी कोई एहमियत नहीं शायद इसलिए…. पैसों के बाजार में रिश्तों का भी मोल लगा दिया — नेहा शर्मा
The Home Maker16
The Home Maker16

The Homemaker, a place to find varieties of tasty and simple recipes. I am a homemaker, a cook by passion, Certified Accounting Technician by profession and helps my hubby in business.I grew up influenced by Maa and Naniji and now hubby also after marraige, many of my recipes reflect the simple, classic style of both women and hubby with a little bit of my own carefree attitude thrown in. I love sharing my recipes and ideas with you and hopefully the result is that you.. …eat and of course, enjoy!
Dont forget to follow my blog, like my facebook page and subscribe our youtube channe for more interesting recipes and videos. Till then Keep cooking and keep sharing.